चाँद से जुड़े 50 रोचक तथ्य | इंटरस्टिंग फैक्ट्स हिंदी


चाँद से जुड़े 50 रोचक तथ्य

Advertisements

चाँद को हमने बचपन से ही आसमान पर चमकते देखा है और हमारे मन में बचपन से ही यह जानने की उत्सुकता रहती है की चाँद कैसा दीखता है | इसी से जुडी में आज की पोस्ट चाँद से जुड़े 50 रोचक तथ्य आपके लिए लेकर आया हु |
चाँद को लेकर कहानियों का संसार बहुत ही दिलचस्प रहा है,चाँद की उत्पत्ति कैसे हुई? चाँद कैसे अस्तित्व में आया? चाँद का आकार क्या है ? क्या चाँद पर वायुमंडल और पानी की मौजूदगी है? ऐसे कई सवाल जो हमारे मन में आते रहते है | तो आज हम चाँद से जुड़े 50 रोचक तथ्य को जानते है –

1 से 10 तक चाँद से जुड़े 50 रोचक तथ्य

1 . चन्द्रमा से देखने पर पृथ्वी 45 से 100 गुना तक ज्यादा चमकदार लगती है. यह अपने आकार की तुलना में चार गुना ज्यादा बड़ी भी दिखाई देती है. इसके अतिरिक्त चांद से देखने पर ग्रहण भी विपरीत दिखते हैं यदि पृथ्वी पर अगर चंद्र ग्रहण होता है तो चन्द्रमा पर सूर्य ग्रहण दिखाई देता है |

  1. क्या आपको पता है 1950 में अमेरिका ने परमाणु बम से चाँद को उड़ाने की योजना बनाई थी | इस टॉप सीक्रेट प्रोजेक्ट को प्रोजेक्ट ए119 का नाम दिया था | लकिन यह प्रोजेक्ट कभी भी हकीकत में नहीं बदल सका |

3 . क्या आपको पता है चाँद से भी बड़े उपग्रह मौजूद है इनमें से सबसे बड़ा बृहस्पति ग्रह के पास स्थित जो की प्लूटो और बुध ग्रह से भी बड़ा है. इसके अलावा टाइटन, कैलीस्टो और ईओ भी चाँद से काफी बड़ा हैं |

4.यदि आपकी इंटरनेट स्पीड कम हैं तो आप चांद पर जा सकते है. नासा ने वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाते हुए चांद पर वाई-फाई कनेक्न की सुविधा मुहैया कराई है जिसकी 19 एमबीपीएस की स्पीड काफी आस्चर्यजनक है |

5 . हमारा चाँद पृथ्वी से हर साल 3.78 सेमी दूर जा रहा है अगले 50 अरब साल तक ऐसा चलता रहा तो चांद को धरती की परिक्रमा करने में 47 दिन लग जायेगा . अभी चांद पृथ्वी की परिक्रमा 28 दिन में कर पाता है |

6 . आपको यह जानकर अस्चर्य होगा की अभी तक सिर्फ 12 लोग ही चांद पर पहुँच पाए हैं. यूजीन कर्नान आखिरी व्यक्ति थे जिन्होंने मिशन एपोलो-17 के तहत चांद पर कदम रखा | उसके बाद से सिर्फ मशीनी रोबोट ही चांद पर जा रहे हैं |

  1. चाँद पर बेहद अस्थिर और हल्का वायुमंडल है. चांद पर पानी भी तरल नहीं होकर सॉलिड फॉर्म में उपलब्ध है. नासा के एलएडीईई प्रोजेक्ट के अनुसार यह हीलियम, नीयोन और ऑर्गन गैसों से मिलकर बना है |

8 .चाँद की गुरुत्वाकर्षण शक्ति कम है. किसी भी तरह का वायुमंडल का न होने का मतलब है कि सौर वायु और उल्कापिंड के आने का खतरा लगातार बना रहता है. यहां तापमान में भारी मात्रा में उतार-चढ़ाव होता रहता है और आसमान हमेशा काला दिखाई पड़ता है |

9 .क्या आप जानते है चंद्रमा पर धूल का गुबार सूर्योदय और सूर्यास्त के समय बना रहता है इसकी असली वजह विज्ञान अभी तक नहीं खोज पाया है, वैज्ञानिकों का मानना है की इसकी वजह अणुओं का इलेक्ट्रिकली चार्ज होना हो सकती है |

Advertisements

.10 .चाँद पृथ्वी का ऐसा एकमात्र उपग्रह है जो 4.5 अरब साल पहले पृथ्वी और थीया के बीच उत्पन हुए भारी टकराव से बचे हुए अवशेषों के मलबे से बना था |

Read also जापान से जुड़े 50 रोचक तथ्य जो आपको सोचने पर मजबूर कर देंगे

11 से 20 तक चाँद से जुड़े 50 रोचक तथ्य

  1. क्या आप जानते है चाँद की गुरुत्वाकर्षण शक्ति पृथ्वी से कम है. अगर आंकड़ों की माने तो चांद पर इंसान का वजन 16.5% कम हो जाता है , इसी वजह से कि चांद पर अंतरिक्ष यात्री ज्यादा उछलकूद कर पाते है |

12 आप जानते है की चांद हमारी नींद पर भी असर डालता है यूनिवर्सिटी ऑफ बेसल, स्विट्ज़रलैंड के अनुसार है अमावस्या पर लोग अच्छी नींद का आनंद लेते हैं वही पूर्णिमा पर नींद कम आती है.हालांकि विज्ञान ने अभी तक इस चीज़ को साबित नहीं किया है |

13 चाँद पर अंतरिक्ष यात्री पृथ्वी की कुछ निशानी भी छोड़कर गए थे जिसमे शांति की प्रतीक सोने की पिन, बैग और अमेरिकन झंडे , दुनिया के 73 राजनेताओं का सद्भावना संदेश, अपोलो 1 मिशन में 1967 एवं 1968 में मारे गए अंतरिक्ष यात्री के कुछ मेडल आदि है |

14 मान लिया जाये की पृथ्वी से अगर चांद गायब हो जाता है तो पृथ्वी पर दिन सिर्फ छह घंटे के लिए होगा |

  1. क्या आपको पता है चन्द्रमा पर लगभग 1 लाख 81 हजार 400 किलो का मानव निर्मित मलबा पड़ा है इनमे से 70 से अधिक अंतरिक्ष यान और दुर्घटनाग्रस्त कृत्रिम उपग्रह भी मौजूद हैं |
  2. NASA के apollo-14 मिशन के दौरान एकत्रित किये डाटा के अनुसार चंद्रमा करीब 4.51 बिलियन वर्ष पहले अस्तित्व में आया | इस आधार पर इसकी उम्र 4.51 बिलियन वर्ष है |
    .
  3. चाँद पृथ्वी का एकमात्र प्राकृतिक उपग्रह है जो सौरमंडल के 181 उपग्रहों में पांचवा बड़ा उपग्रह है |
  4. पृथ्वी से देखने पर चाँद गोलाकार दिखाई देता है परन्तु वास्तव में इसका आकार अंडे के समान अंडाकार है |
  5. क्या आपको पता है चन्द्रमा का व्यास 3476 किमी है, जो पृथ्वी के व्यास का 1/4 भाग के बराबर है. चंद्रमा का आकार बृहस्पति और शनि के उपग्रहों से भी बहुत कम है |पृथ्वी से देखने पर चाँद गोलाकार दिखाई देता है परन्तु वास्तव में इसका आकार अंडे के समान अंडाकार है |
  6. क्या आपको पता है चन्द्रमा का व्यास 3476 किमी है, जो पृथ्वी के व्यास का 1/4 भाग के बराबर है. चंद्रमा का आकार बृहस्पति और शनि के उपग्रहों से भी बहुत कम है |
  7. क्या आप जानते है चाँद एवं पृथ्वी के बीच की दूरी लगभग1,38,900 मील (3,84,000 किलोमीटर) तक है.एवं चंद्रमा 2300 मील/घंटे (3700 किलोमीटर/घंटे) की औसत गति से पृथ्वी के चक्कर लगता है |

21 से 30 तक चाँद से जुड़े 50 रोचक तथ्य

चाँद से जुड़े 50 रोचक तथ्य

21 आपको पता है की चंद्रमा रात में चमकता दिखाई देता है लेकिन आपको आस्चर्य होगा की चन्द्रमा का खुद का कोई प्रकाश नहीं होता | वह सूर्य के प्रकाश से चमकता है |

  1. चाँद दिन के समय बहुत गर्म और रात में बहुत ज्यादा ठंडा होता है. चन्द्रमा में दिन का औसत तापमान 134 डिग्री सेल्सियस और रात का -153 डिग्री सेल्सियस होता है |
  2. क्या आपको पता है असल में चाँद सूर्य से 400 गुना छोटा है और चन्द्रमा सूर्य की तुलना में पृथ्वी से 400 गुना नजदीक होने की वजह से चंद्रमा आकार में सूर्य जितना दिखाई देता है |
  3. पृथ्वी पर हमे चंद्रमा का एक ही भाग दिखाई देता है ऐसा इसलिए होता है क्योंकि चाँद के अपने अक्ष पर घूर्णन की अवधि और पृथ्वी की कक्षा में परिक्रमा की अवधि एक सामान ही है इसलिए हम चंद्रमा का 50% हिस्सा ही देख पाते हैं |

25 . क्या आपको पता है चाँद का छेत्रफल अफ्रीका महादीप के बराबर है | और आधे चन्द्रमा की तुलना में पूरा चाँद 9 गुना ज्यादा चमकदार है |

  1. 1969 से 1972 तक चाँद पर 6 मानवयुक्त यान भेजे जा चुके है | 1972 के बाद से चाँद पर मानव रहित अंतरिक्ष यान ही भेजे जा रहे है |

27 . आपको जानकर यह गर्व होगा की चाँद पर सबसे पहले पानी की खोज भारत द्वारा ही की गयी थी | भारत ने वर्ष 2008 में चंद्रयान मिशन में चाँद पर बर्फ़ के रूप में पानी की खोज की जिसकी बाद में NASA द्वारा भी पुस्टि गई |

28 . क्या आप जानते है चाँद पर मॉन्स हाइजन सबसे ऊँचा पर्वत है जिसकी ऊँचाई 4700 मीटर तक है, जो माउंट एवरेस्ट की आधी ऊंचाई है. माउंट एवरेस्ट की ऊँचाई 8848 मीटर है |

Advertisements

29 . क्या आपने कभी सोचा है चन्द्रमा पर काले धब्बे क्यों दिखाई देते है क्युकी चाँद की सतह से टकराने वाले क्षुद्रग्रह और धूमकेतु की वजह से इसकी सतह पर इतने सारे गड्ढे हैं क्युकी चाँद पर वायुमंडल नहीं है, इसलिए ये गड्ढे अब तक मौजूद हैं. यही गड्ढे हमे काले धब्बे के रूप में दिखाई देते हैं |

30 .क्या आपको पता है सौरमंडल के सभी ग्रहों में सबसे बड़ा गड्ढा चंद्रमा में मौजूद है. इसे दक्षिण ध्रुव-एटकन के नाम से भी जानते है. इसका व्यास करीब 1550 मील (2500 किमी) तक है. पृथ्वी की से देखा जाने वाला सबसे बड़ा गड्ढा बेली क्रेटर है, जिसका व्यास 183 मील तक है |

Read also दुनिया से जुड़े 100 रोचक तथ्य जो आपको आस्चर्यचकित कर देंगे !


31 से 40 तक चाँद से जुड़े 50 रोचक तथ्य

31 .चाँद की सतह पर गोल्फ खेलने वाले पहले व्यक्ति एलन शेफर्ड थे, जिन्होंने 1971 में चाँद की सतह पर गोल्फ खेला था | उनके द्वारा हिट की गई गोल्फ की गेंद ने करीब 800 मीटर का फ़ासला तय किया था |

32 . क्या आपको पता है चाँद की यात्रा करने अंतरिक्ष यात्रीओ ने मल ,मूत्र ,उल्टी के 96 बैग छोड़े थे |

33 . क्या आप जानते है बज एल्ड्रिन पहले ऐसे व्यक्ति है जिन्होंने चन्द्रमा पर पेशाप किया था |

34 चाँद पर गए अमरीकी अंतरिक्ष यात्रियों द्वारा वहाँ गाड़े गए अमरीकी झंडे सूरज के विरंजन प्रभाव के कारण सफेद हो चुके हैं |

35 . अपोलो-11 ने चाँद की सतह पर लैंडिंग में उपयोग किये गए कंप्यूटर की तुलना में आज एक स्मार्ट फोन में अधिक कंप्यूटिंग पॉवर उपलब्ध है |

Advertisements

36 चाँद पर अभी तक हुए अपोलो मिशन द्वारा चंद्रमा की सतह से 196 टुकड़े लाये जा चुके हैं, जिनका कुल वजन 382 किलो के आसपास है |

37 क्या आपको पता है चाँद पर दिखाई देने वाले धब्बों को चीन में ‘चाँद पर मेंढक’ कहा जाता है |

38 एक आंकलन के हिंसाब से यदि आप 70 मील/घंटे की रफ्तार से गाड़ी चलाते हुए चाँद पर जाते है , तो आपको वहाँ तक पहुँचने में 135 दिन लगेंगे |

39 टेलीस्कोप से चाँद जिस तरह से दिखाई देता है, उसका मानचित्र सबसे पहले ब्रिटिश खगोलशास्त्री थॉमस हैरियट ने बनाया था |

40 क्या आपको पता है चाँद की सतह के गड्ढो के नाम ” वैज्ञानिक, अविष्कारक, कलाकार या खोजकर्ताओं के नाम ” पर रखे जाते हैं.जिसकी शुरूवात 1645 में ब्रुसेल्स के एक इंजीनियर माइकल वैन लैंग्रेन ने की थी |

Read also ब्रम्हाण्ड से जुड़े 50 रोचक तथ्य हिंदी में |

41 से 50 तक चाँद से जुड़े 50 रोचक तथ्य

चाँद से जुड़े 50 रोचक तथ्य

41 पृथ्वी पर आने वाले भूकंपों की तरह चाँद की सतह पर भी कंपन होता है, जिसे moonquakes कहते हैं. Moonquakes आने की वजह धरती का गुरुत्वाकर्षणीय प्रभाव होता है | चाँद पर ये moonquakes आधे से लेकर एक घंटे तक आ सकता है |

42 क्या आप जानते है कई सालो पहले हमारा चाँद पृथ्वी के सतह से 10 गुना ज्यादा पास था | इसलिए यह उस वक्त आकाश में 10 गुना ज्यादा बड़ा दिखाई देता था |

43 क्या आपको पता है Apollo 17 के एक मिसन के दौरान एक यात्री के कपड़ों में चाँद के सतह की मिट्टी लग गयी थी | बाद में जब उस मिट्टी को सूंघा गया तो , पता चला की वह बंदूक के गोली में उपयोग होने वाले बारूद के जैसी गंध मारती थी |

Advertisements

44 क्या आपको पता है वायुमंडल नहीं होने पर चन्द्रमा का एक भाग ठंड से जमा होता है जबकि दूसरा भाग सूर्य के प्रकाश से जल रहा होता है|

45 सोवियत राष्ट् का लूना-1 पहला अन्तरिक्ष यान था जो चन्द्रमा के पास से होकर गुजरा था। जबकि लूना-2 पहला अन्तरिक्ष यान था जो चन्द्रमा की सतह पर उतरा था।

46 यदि चन्द्रमा का अस्तित्व समाप्त हो जाये या फिर वो चक्कर लगाना बंद कर दे तो पृथ्वी पर दिन 6 घंटे का हो जायेगा ।

47 चाँद पर कदम रखने वाले अंतिम इंसान जीन सर्नन थे | जो 1972 में अपोलो-17 मिशन पर गए थे

48 क्या आप जानते है हर साल चाँद पृथ्वी से लगभग 3.8 सेमी दूर होता जा रहा है ऐसा अनुमान है कि यह अगर 50 बिलियन वर्षों तक चलता रहा तो चंद्रमा को पृथ्वी की परिक्रमा करने में 27.3 दिनों के बजाय 47 दिन लगने लगेंगे |

49 चाँद का खुद का कोई प्रकाश नहीं होता वह सूरज के प्रकाश का परावर्तन करता है और यह प्रकाश पृथ्वी तक पहुँचने में 1.3 सेकंड लगते हैं |

50 चाँद को पृथ्वी की परिक्रमा करने में 27.3 दिन का समय लगता है |

Read also मानव शरीर से जुड़े 100 रोचक तथ्य | Amazing Facts the Human Body

Advertisements

आज के आर्टिकल में हमने जाना चाँद से जुड़े 50 रोचक तथ्य उम्मीद है आपको यह पोस्ट पसंद आयी होगी अगर आपके मन में कोई सवाल हो तो कमेंट करके जरूर बताये |

Advertisements

मेरा नाम दीपक डागा है में अरुणाचल प्रदेश में रहता हु में पार्ट टाइम ब्लोग्गर हु मेरा ब्लॉग hindifreedom.com को मैंने 24 may 2020 start किया था मेरा ब्लॉग को बनाने का मुख्य उद्देश्य पाठको को हिंदी भाषा में ज्यादा से ज्यादा वैल्युएबल जानकारी उपलब्ध कराना है मुझे नार्थ ईस्ट इंडिया की संस्कृति से काफी लगाव है इसलिए में वहा की कल्चर से जुडी जानकारी शेयर करना पसंद करता हु | आपको कोई मदद की जरुरत हो तो नीचे कमेंट जरूर करे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *